section and everything up till
* * @package ThemeGrill * @subpackage ColorMag * @since ColorMag 1.0 */ // Exit if accessed directly. if ( ! defined( 'ABSPATH' ) ) { exit; } ?> यह आंदोलन अब देश को बंटवारे की ओर ले जाने का काम कर रहा है।-योगेश नामदेव - सरल संवाद

यह आंदोलन अब देश को बंटवारे की ओर ले जाने का काम कर रहा है।-योगेश नामदेव

सरल संवाद।26 जनवरी एक ऐसी तारीख जिसे सुनकर के हर भारतवासी अपने आप को गौरवान्वित महसूस करता है क्योंकि इसी के माध्यम से आज हमें अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने का, समान रूप से जीवन यापन करने का, धर्म और भाषा के आधार पर किसी के साथ भेदभाव नहीं किया जा सकता यह अधिकार प्राप्त होता है किंतु जो 26 जनवरी 2021 को हुआ उसे देख कर के हर भारतवासी अपने आप को इस घटना क्रम की निंदा करने से नहीं रोक पा रहा है जहां हमारा राष्ट्र ध्वज लहराता है वह किसान आंदोलन के नाम पर देश को भड़काने का काम किया, अपमानित किया, ऐसे लोगों के प्रति हर भारतीय के मन में गुस्सा है इन्होने देश को शर्मिंदा किया है विश्व के सामने, हर भारतीय की इच्छा है कि इन सब के खिलाफ राष्ट्रीयद्रो का मुकदमा लगना चाहिए कृषि कानूनों के खिलाफ हो रहा यह आंदोलन अब देश को बंटवारे की ओर ले जाने का काम कर रहा है मेरा व्यक्तिगत मानना है कि जो लोग इस प्रकार के घटनाक्रम को करके देश की एकता और अखंडता मैं दरार पैदा करने का काम कर रहे हैं उनकी नागरिकता को खत्म कर देना चाहिए। यह षड्यंत्र मे जो कम्युनिस्ट विचारधारा इस देश में पांव पसारना चाहती है उसे उखाड़ फेंक दिया जाएगा क्योंकि यह देश ऐसी विचारधारा का समर्थन नहीं करता, भोले-भाले किसानों को गुमराह करके देश में आग लगाने का काम कर रहे इन नेताओं के खिलाफ देश के प्रत्येक नागरिक के मन में बहुत गुस्सा है किसानों जो इस देश के लिए अपना खून और पसीना दोनों निछावर करते हैं ऐसे किसानों को मोहरा बनाकर के इस देश में कुछ लोग इस देश को बदनाम और बांटने का कृत्य कर रहे हैं मैं खुली चुनौती देता हूं कि हमारे देश का किसान जो देश को चलाने में अहम भूमिका अदा करता है वह भी आज शर्मिंदा महसूस कर रहा है कि हमने इन लोगों पर विश्वास करके इनके आंदोलनों में गए और आज हम देश के खिलाफ नजर आ रहे हैं मेरा तो सभी किसान भाइयों से निवेदन है कि जो जो 26 जनवरी 2021 के दिन लाल किले पर जो घटना घटित हुई है उसके खिलाफ जिन जिन किसानों के मन में आक्रोश है वह सब एकत्रित होकर के इस कृषि आंदोलन के खिलाफ एक आवाज उठाएं और एक सिरे से देश को बताएं कि यह जो ढोंगी किसान हैं जो हमें बदनाम करने का काम कर रहे हैं हम उनका समर्थन नहीं करते। यह सरकार बहुत संवेदनशील सरकार है जो हर किसान के दुख को अपना दुख समझती है इसीलिए इस सरकार ने ऐसी योजनाओं का निर्माण किया जिससे किसानों का सर्वांगीण विकास हो किसानों के घर बिजली पहुंचाई किसानों के घर यस पहुंचाई किसानों के घर के सामने सड़क पहुंचाई पक्का मकान बनाया और आज इस कृषि सुधार कानून के माध्यम से जिन किसानों पर व्यापारी उन्हें वादे करते थे कि आप हमें ही माल देंगे आपका माल और कोई नहीं खरीदेगा उससे उन किसानों को आजादी प्रदान की है आज वह किसान भाई अपना माल लेकर के देश के किसी भी कोने में उचित दाम पर अपना माल भेज सकता है यह स्वतंत्रता आज सरकार ने इन सब किसान भाइयों को प्रदान की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *