section and everything up till
* * @package ThemeGrill * @subpackage ColorMag * @since ColorMag 1.0 */ // Exit if accessed directly. if ( ! defined( 'ABSPATH' ) ) { exit; } ?> शिव मुझे विषपान सिखा दो - सरल संवाद

शिव मुझे विषपान सिखा दो

शिव मुझे विषपान सिखा दो
कैसे करते हो ध्यान सिखा दो
शिव मुझे विषपान सिखा दो

कुछ न लेकर, कैसे सब कुछ दे देते हो ये बतला दो
कष्ट असाध्य भी सह कर, कैसे वर देते हो ये बतला दो
मुस्काकर जो अलख निरंजन कहते हो, मतलब समझा दो
शिव मुझे विषपान सिखा दो

सचमुच भोले हो, या भोलेपन का तुमने स्वाँग रचाया
कैसे मानूं तुम न जानो, किसने क्या है भाव छिपाया
क्यों नहीं होता खेद तुम्हारे मन में मुझको ये समझा दो
शिव मुझे विषपान सिखा दो

कैसे पाया नेत्र तीसरा, कथा कभी तो हमें सुना दो
महादेव होकर भी, क्यों फक्कङ हो, ये तो ज़रा बता दो
तीन लोक क्यों तेरे आगे नतमस्तक हैं, ये समझा दो
शिव मुझे विषपान सिखा दो
शिव मुझे विषपान सिखा दो

-किशोर कुमार शर्मा

One thought on “शिव मुझे विषपान सिखा दो

  • March 10, 2021 at 2:39 pm
    Permalink

    जय भोलेनाथ 🙏

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *