मॉडर्न ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट्स के द्वारा तीन दिवसीय राष्ट्रीय वेबिनार कार्यशाला का आयोजन

इंदौर, मॉडर्न ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट्स के द्वारा तीन दिवसीय राष्ट्रीय वेबिनार कार्यशाला का आयोजन किया गया। उक्त कार्यशाला “बाजार में उत्पाद कैसे लॉन्च किया जाए” विषय पर रखा गया जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में श्री जितेंद्र त्यागी (प्रबंध निदेशक ब्रिस्टल मायर्स स्क्वैब प्राइवेट लिमिटेड) आमंत्रित रहे। यह कार्यक्रम AICTE के SPICES योजना तथा MHRD-IIC के अंतर्गत आयोजित किया गया। इस तीन दिवसीय कार्यशाला के पहले दिन ०9अप्रैल को उद्घाटन सत्र में संस्था के अध्यक्ष डॉ अनिल खरया ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में बताया कि अपने व्यवसाय को सफल बनाने के लिए हमें उस उत्पाद के बारे में स्पष्ट दृष्टिकोण रखना चाहिए जो हमें बाजार में लॉन्च करना है।

संस्था के समूह के निदेशक डॉ० पुनीत कुमार द्विवेदी ने स्टार्टअप के बढ़ते महत्व पर प्रकाश डाला और बताया कि स्टार्टअप की योजना कैसे बनाई जाए। किसी भी स्टार्टअप के लिए कैसे सोचें और किसी भी नए व्यवसाय को शुरू करने में एवं सफल होने के लिए क्या रणनीति होनी चाहिए | मॉडर्न इंस्टीट्यूट ऑफ़ फ़ार्मास्यूटिकल्स साइंसेज़ की संस्था प्रमुख डॉ० सपना मालवीय ने बताया की उद्यमी बनने के लिए योजना की आवश्यकता होती है, लेकिन योजन का सुचारू ढंग से क्रियान्वयन होना भी बहुत आवश्यक है।

कार्यशाला के पहले दिन माननीय अतिथि वक्ता श्री जीतेन्द्र त्यागी ने फार्मा उत्पादों की मार्केटिंग के बारे में कुछ प्रमुख बातें साझा की उन्होंने फार्मा उत्पादों के प्रकार, ब्रांड एवं अपने प्रतियोगियों को जानता भी अव्यशक है के बारे में जानकारी दी।कार्यशाला के दूसरे दिन उद्यमी कौशल कैसे विकसित किया जाए पर आधारित रहा| इसमें निम्नलिखित बिंदुओं पर प्रकाश डाला गया जैसे कंपनी, ग्राहक विभाजन और लक्ष्यीकरण, प्रतियोगिता विश्लेषण, मूल्य निर्धारण रणनीति, वितरण रणनीति और डिजिटल रणनीति पर चर्चा की गयी।कार्यशाला के तीसरे दिन श्री जितेंद्र त्यागी के द्वारा सफल उद्यमी बनने के लिए, अवसरों पर आधारित रणनीति और योजना को परिभाषित किया गया।कार्यशाला मॉडर्न ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूटस के छात्रों के लिए बहुत मूल्यवान और ज्ञानवर्धक रही। व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन में सफल होने के इच्छुक छात्रों के लिए यह निश्चित रूप से फायदेमंद होगा। इस कार्यक्रम का संयोजन एवं संचालन श्रीमती मितेश सचदेवा ने किया। डॉ. सपना मालवीय ने आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *