section and everything up till
* * @package ThemeGrill * @subpackage ColorMag * @since ColorMag 1.0 */ // Exit if accessed directly. if ( ! defined( 'ABSPATH' ) ) { exit; } ?> मॉडर्न लैबोरेटरी इंदौर को मिला एम्फोटेरिसिन-बी इंजेक्शन बनाने का लायसेंस- सरल संवाद

मॉडर्न लैबोरेटरी इंदौर को मिला एम्फोटेरिसिन-बी इंजेक्शन बनाने का लायसेंस-

सरल संवाद।-ब्लैक फ़ंगस, ह्वाइट फ़ंगस और येल्लो फ़ंगस की चिकित्सा में प्रभावशाली है एम्फोटेरिसिन-बी (इंजेक्शन) एवं पोसॉकोनॉजॉल (ओरल सस्पेंशन)।
-देश की गिनी-चुनी फ़ार्मा मैनुफ़ैक्चरिंग यूनिट्स कर रही हैं उत्पादन। इंदौर की मॉडर्न लैबोरेटरीज भी उनमें है शुमार। -प्रतिदिन १०००० यूनिट की क्षमता से उत्पादन की तैयारी कर ली है।

बतादें कि मॉडर्न लैबोरेटरीज द्वारा कोविड के उपचार में उपयोग होने वाली महत्वपूर्ण दवा फैविपिराविर ( फिविकेयर), मिडॉजोलम (इनेस्थिशिया इंजेक्शन) का भी वृहद् पैमाने पर हो रहा है रहा है उत्पादन।बतादें कि मॉडर्न लैबोरेटरी द्वारा फैविपिराविर (फिविकेयर) का उत्पादन विगत लगभग २० दिनों से अनवरत किया जा रहा है एवं देश के विभिन्न फ़ार्मेसी स्टोर्स पर आसानी से उपलब्ध है। ज्ञातव्य है कि उक्त दवाओं की बड़े स्तर पर हो रही कालाबाज़ारी से सरकार, प्रशासन एवं जनता परेशान हो रही है। मॉडर्न लैबोरेटरी द्वारा बृहद स्तर पर किये जा रहे इन दवाओं के उत्पादन से कालाबाज़ारी की समस्याओं से भी आसानी से निपटा जा सकता है।

वर्तमान महामारी काल में कच्चे माल की उपलब्धता एक बड़ी चुनौती है परंतु मॉडर्न लैबोरेटरी ने सेवा के संकल्प को धारण कर अपने भगीरथ प्रयासों से कच्चे माल की उपलब्धता को सुनिश्चित कर लिया है।मॉडर्न ग्रुप के प्रेसिडेंट श्री अरुण खरया जी का कहना है कि उक्त निहित हमने अंतरराष्ट्रीय आपूर्तिकर्त्ताओं से समुचित अनुबंध कर लिये हैं।अगले सप्ताह में कच्चे माल की आपूर्ति होते ही शुरु कर देंगे उत्पादन। शीघ्र उत्पादन एवं वितरण की व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करने के लिये हमने पूरी तैयारी कर ली है।

विगत ४२ वर्षों से फ़ार्मा मैनुफ़ैक्चरिंग एवं गवर्नमेंट सप्लाई के क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली मॉडर्न लैबोरेटरी कोरोना महामारी के इस संकटकाल में भी कोरोना आदि की दवायें युद्ध स्तर पर मध्य प्रदेश के साथ अन्य प्रदेशों की सरकारों को भी उपलब्ध करा रही है।

देश की गिनी चुनी प्रोपोफॉल (एनेस्थिटिक इंजेक्शन) की निर्माता कंपनियों में से एक इंदौर की मॉडर्न लैबोरेटरीज के चेयरमैन डॉ.अनिल खरया जी का कहना है कि “प्रदेश में तेज़ी से बढ़ रहे ब्लैक फ़ंगस बीमारी के निवारण हेतु एवं मध्य प्रदेश की जनता की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुये मा० मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के कोरोना मुक्ति एवं ब्लैक फ़ंगस आदि बीमारियों से प्रदेश को मुक्त करने के अभियान में मॉडर्न लैबोरेटरीज कदम से कदम मिलाकर चल रही है एवं लक्ष्य की पूर्ति हेतु प्रतिदिन १० हज़ार एम्फोटेरिसिन-बी (इंजेक्शन) के उत्पादन के लक्ष्य को पूर्ण करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11111111