section and everything up till
* * @package ThemeGrill * @subpackage ColorMag * @since ColorMag 1.0 */ // Exit if accessed directly. if ( ! defined( 'ABSPATH' ) ) { exit; } ?> भारत में पुलिस कोरोनावायरस संकट के समय में कानून और व्यवस्था बनाए रखने का उल्लेखनीय काम कर रही है। - सरल संवाद

भारत में पुलिस कोरोनावायरस संकट के समय में कानून और व्यवस्था बनाए रखने का उल्लेखनीय काम कर रही है।

दुनिया के साथ साथ अपने देश को भी कोरोनावायरस से फैली महामारी ने हिला कर रख दिया है
इस समय देश में सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल की स्तिथि है ऐसी चुनौती देश के सामने शायद ही कभी आई होगी जब इस तरह की चुनौती आती है तो उससे मुकाबला करने के लिए अलग अलग स्तर पर नये नये मापदण्ड भी तय करना पडते है एक तरफ इस महामारी से निपटने की जिम्मेदारी ” डॉक्टर, नर्स और अन्य स्वास्थकर्मियों ” ने बखूबी संभाल रखी है तो दूसरी ओर आपदा की इस घड़ी में देश की शांति व्यवस्था बनाये रखना पुलिस की अहम जिम्मेदारी है।

पुलिस महकमे की यह जिम्मेदारी इस लिए और बढ जाती है क्योंकि उसे मालूम है कि पुलिस प्रशिक्षण के दौरान ऐसे आपातकाल से कैसे निपटा जाये इसके बारे में उन्हे कोई दिशा निर्देश ही नही दिए गए थे इसी प्रकार लॉकडाउन का प्रयोग भी नया हे जिससे निपटने की भी चुनौती से पुलिस को दो चार होना पड़ रहा है।

इस विषम परिस्थिति में पुलिस नेतत्व से यह अपेक्षा करना गलत नहीं होगा कि वह उपलब्ध सीमित संसाधनों से अधिक व्यापक सोच से कोरोना महामारी के समय आने वाली समस्याओं को मात देने में सफल रहेगी।

पुलिस किसी भी शासन प्रशासन का एक ऐसा महत्वपूर्ण अंग है जो कि इस समय लॉकडाउन धारा 144 , किसी इलाके को सील करने आदि की कबायद को मूर्त रूप दे रही है इसके साथ साथ कोरोनावायरस महामारी से देश को बचाने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग को महत्वपूर्ण बताया जा रहा है जिसे लागू करने की बड़ी जिम्मेदारी पुलिस विभाग की है वह इसे बखूबी निभा भी रहे है लेकिन काम के बोझ के दबाव के चलते पुलिसकर्मि तनाव में तो आ ही रहे हैं इसके अलावा तमाम पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव भी होते जा रहे हैं जो अलग से चिंता का कारण बना हुआ है।
याद रखना होगा कि चिकित्सा कर्मचारी जब संक्रमित व्यक्तियों को आइसोलेशन अथवा क्वॉरेंटाइन मैं डालते हैं तब उनकी सहायता मौके पर मौजूद पुलिस ही करती है यहां यह भी याद रखना है कि स्वास्थ्य कर्मचारियों के पास मानक रूप से सुरक्षात्मक वस्त्र होते हैं परंतु पुलिस के पास ऐसा कुछ नहीं होता है इसलिए पुलिस का कार्य ज्यादा जोखिम भरा होता है उसे कोरोना पॉजिटिव को पकड़ने से लेकर अस्पताल तक पहुंचाना होता है इस दौरान वह सीधे यानी शारीरिक रूप से ऐसे मरीजों के टच में रहता है जो काफी घातक होता है।
अतः कहा जा सकता है महामारी के इस समय में पुलिस प्रशासन अपनी जिम्मेदारी बखूबी से निभा रही है । अनिकेत मीणा

One thought on “भारत में पुलिस कोरोनावायरस संकट के समय में कानून और व्यवस्था बनाए रखने का उल्लेखनीय काम कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11111111